Saturday, June 13, 2009

खारे पानी के नीचे का गंदा


उत्तरी दिल्ली के कुछ इलाकों में सप्लाई का पानी पीने योग्य नहीं है। मुखर्जी नगर, परमानंद कॉलोनी, ढक्का आदि इलाकों में लोगों को खरीद कर पानी पीना पड़ रहा है।
प्रवासी छात्रों की इन कॉलोनी में कुछ-एक दिन पहले छात्र आपस में बतिया रहे थे- ‘गंदा पानी सप्लाई करने की वजह भी हो सकती है। यह हो सकता है कि पानी बेचने वाली कंपनियों से गठजोड़ की वजह से ही दिल्ली जल बोर्ड ऐसा पानी सप्लाई कर सकता है, जिसका मीठापन बिल्कुल गायब हो। ऐसे में आम लोग खरीद कर ही पानी पी पाएंगे और इस तपती गर्मी में पानी का व्यापार फैलेगा।’
क्या यह सही हो सकता है ? भई हो तो कुछ भी सकता है। फिलहाल इसको लेकर खोज-पड़ताल करने की जरूर है। लेकिन इतना तो सही है कि गंदा पानी आने की वजह से इन इलाकों में पानी का व्यापार दोगुना हो गया है।

2 comments:

ओम आर्य said...

कुछ भी हो सकता है ........पडताल कर लेने मे कोई बुराई नही है..

rajesh said...

इस इलाके के लोग कठिनाई झेल रहे हैं।